क्या आप उन 1000 बैंकर्स में है जिन्होंने निजीकरण के खिलाफ हार न मानने और अंत तक लड़ने का प्रण लिया है ।। - We Bankers

Breaking

We Bankers

Banking Revolution in india

Wednesday, February 17, 2021

क्या आप उन 1000 बैंकर्स में है जिन्होंने निजीकरण के खिलाफ हार न मानने और अंत तक लड़ने का प्रण लिया है ।।


बैंककर्मचारी दिन रात बहुत काम कर रहा है फिर भी उसको सब कामचोर कहते है क्योंकि बैंककर्मचारी की समस्या बताने वाला कोई नही है ।। पर WeBankers की टीम लगातार व रोजाना बैंककर्मचारी की बात सोशल मीडिया पर प्रचारित कर रही है ।।


आज जब बैंक को प्राइवेट किया जा रहा है उसका सीधा असर छोटे ग्राहको पर पड़ने वाला है फिर भी वो इस अनजान खतरे से अनभिज्ञ है ।। क्योकि उनको बताने वाला कोई नही है , 


WeBankers उन 1000 एक्टिव बैंकर्स की तलाश कर रहा है जिनको लगता है कि इस मिशन में जनता की भागीदारी भी जरूरी है , हम अपील करते है उन 1000 बैंकर्स से की वो मात्र 10 ग्राहको, स्टाफ, रिश्तेदारों, मित्र मंडली के मोबाइल में webankers के

Youtube


Facebook 


पेज को सब्सक्राइब फॉलो करवाये ।।


अगर ऐसा हो पाता है तो 30 दिन के अंदर WeBankers सोशल मीडिया पर सबसे बड़ा माध्यम अर्थात 3 लाख लोगों के साथ प्राइवेट के खिलाफ बिगुल बजायेगा


तब Webankers को लोग देखेंगे भी और सुनेंगे भी क्योकि तब तक हमारी पहुँच न केवल बैंककर्मचारी बल्कि आम जनता तक पहुँच गयी होगी , मात्र 1 मिनट से भी कम समय मे आप ग्राहको को खुद से जोड़ सकते है ।।


आज से प्रण लीजिए कि हमे कम से कम 10 ग्राहको के मोबाईल में WeBankers के Youtube, Facebook, Android App डाऊनलोड करवाना है , 1000 बैंकर्स रोजाना करे तो 30 दिन में 3 लाख आपकी ताकत बन कर आपके साथ खड़े होंगे ।।

4 बैंको के प्राइवेट करने की तैयारी हो गयी है, अन्य बैंक भी प्राइवेट की लाइन में तैयार खड़े है , आप दिन रात बैंकिंग कर रहे है वहाँ पीछे से आपको प्राइवेट के हाथों बेचा जा रहा है और चंदे वाली यूनियन तमाशा देख रही है ।।


Webankers हार मानने वाला नही है , हम हर सवाल जनता के सामने रखेंगे क्योकि फैसला जनता को करना है , हमारी लाइव डिबेट रोजाना 8:30 PM पर सभी सोशल प्लेटफ़ॉर्म पर आती है जिन पर हम आपसे अपेक्षा करते है इसको जन जन तक पहुचाने व इस लाइव डिबेट में खुद को भाग लेकर अपनी बात रखने का 


इस समय बैंकिंग इंडस्ट्री में Webankers ही आम बैंकर्स को वो सभी प्लेटफार्म दे रहा है जहां पर आप प्राइवेट के गुण दोष पर डिबेट कर सकते है और एक फैसला ले सकते है ।।


इस लाइव डिबेट में शामिल होने के लिए टेलीग्राम जॉइन करे जिस पर लाइव डिबेट का लिंक दिया जाता है 


TELEGRAM


इसको अधिक से अधिक शेयर कीजिये और सभी बैंककर्मचारी को Webankers के सभी प्लेटफार्म पर जोड़ने के साथ टेलीग्राम पर भी जोड़िए ।।


याद रखिये एकता ही बैंककर्मचारी की शक्ति है और हम उस शक्ति का प्रयोग करके प्राइवेट के विरुद्ध युद्ध का ऐलान करते है ।।